करोना  से बचाव के लिए उत्तराखंड में लिया गया एक बड़ा फैसला 50 से ज्यादा लोगों को जमा होने पर रोक लगा दी गई है सरकार ने करुणा संक्रमण को देखते हुए राज्य में एक स्थान पर 50 से ज्यादा लोगों के इकट्ठा होने पर रोक लगाने का फैसला लिया है मुख्य सचिव की अध्यक्षता में सोमवार को हुई स्टेट टास्क फोर्स की बैठक में यह निर्णय लिया गया मंगलवार को इसके आदेश भी कर दिए जाएंगे इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग को आपात स्थितियों में लगभग 50 करोड़ खर्च करने और कर्मचारियों की नियुक्ति का भी अधिकार दे दिया गया है परिवहन निगम की सभी बसों को सैनिटाइजर दिया जाएगा बैठक में परिवहन की सभी बसों को सैनिटाइज करने और बसों में सफाई व्यवस्था करने को कहा गया है वहीं राज्य में स्वास्थ सेवाओं को सुधारने के लिए कई अन्य कदम उठाने का भी निर्णय लिया गया है बैठक में प्रमुख अस्पतालों में सेंध लगाने का भी निर्णय लिया गया बैठक में मुख्य सचिव के साथ ही सभी प्रमुख सचिव शामिल थे कोई विदेशी लौटा है तो 104 पर फोन करने को भी कहा गया है देहरादून में राज्य के कई क्षेत्रों में विदेशियों के मिलने के मामले सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने अपील की है कि उनके आस-पास यदि कोई चीज या कोरोनावायरस प्रभावित देशों से लौटा व्यक्ति रहा है तो इसकी सूचना कंट्रोल रूम के नंबर पर तुरंत दें जिला बागेश्वर में भी एक संदेश को पुलिस उठाकर ले गई है जिसकी जांच की जा रही है केरल से आएगी वह को पुलिस ने करुणा की संदिग्ध होने में के शक में पकड़ लिया हालांकि स्वास्थ्य विभाग की जांच के बाद उसे तुरंत रिहा कर दिया गया युवक यहां बाल कटवाने का काम करता है