क्रोना  वायरस के डर से पूर्णागिरि मेले का अग्रिम आदेशों तक स्थगित कर दिया गया है क्रोना  के खतरे को देखते हुए मां पूर्णागिरि धाम में चल रहे मेरे को अग्रिम आदेशों तक स्थगित कर दिया गया है मंदिर समिति तथा जिला प्रशासन की सहमति के बाद सोमवार देर शाम शासन ने मेला स्थगित करने का निर्णय लिया है मेला स्थगित करने के बाद अब यूपी और तमाम जो उत्तराखंड से लगे वोटरों को भी सील कर दिया जाएगा मंगलवार को जिला प्रशासन यूपी और उत्तराखंड के जिलों के अधिकारियों को पत्र भेजकर श्रद्धालुओं को पूर्णागिरि आने से रोकने का अनुरोध कर सकता है मान्यता के अनुसार 2 शताब्दी से चला आ रहा है पूर्णागिरि मेला पहली बार स्थगित करना पड़ा है जिसका सीधा सीधा प्रभाव मेले में आए हुए व्यापारियों और पड़ेगा लगभग 97 दिनों दिन मेले का शुभारंभ 11 मार्च को किया गया था मेला कब तक स्थगित रहेगा इसको लेकर फिलहाल कोई भी निर्णय नहीं लिया गया है विगत सोमवार को डीएम एसएन पांडे व एसपी लोकेश्वर सिंह ने मंदिर समिति टैक्सी यूनियन और मेले से जुड़े हुए अन्य गणमान्य व्यक्तियों के साथ टनकपुर में बैठाकर शासन से मेरे को स्थगित करने की अनुमति मांगी थी डीएमएसएन पांडे ने बताया कि को रोना को लेकर हर सप्ताह एक समीक्षा बैठक की जाएगी और परिस्थिति को देखते हुए मेले पर अग्रिम फैसला लिया जाएगा